Prem Ka Hridaya

prem-ka-hridaya-premchand-munshi-shortstories-image
Part 3 of total 3 stories in series Mansarovar Part 4.
  

भोंदू पसीने में तर, लकड़ी का एक गट्ठा सिर पर लिए आया और उसे जमीन पर पटककर बंटी के सामने खड़ा हो गया, मानो पूछ रहा हो ‘क्या अभी तेरा मिजाज ठीक नहीं हुआ ? ‘

Continue Reading